11+ Happy Saraswati Puja Wishes, Vasant Panchami Quotes -[saraswati Image]

Today I am Share With you Happy Saraswati Puja Wishes Images, Hindi Saraswati Puja Wishes, Saraswati Puja Wishes Wallpaper , Good Saraswati Puja Wishes pics HD Download , Latest Saraswati Puja Wishes For Share on WhatsApp & Facebook.

Saraswati Puja is the worship of the Goddess of Education, Voice, Music, and Wisdom, is also called vasant panchami.here you find Saraswati Images for wishes

Saraswati image, Photo, Quotes, Greetings

सरस्वती – कला की देवी और ज्ञान का प्रतीक है। वह चेतना की नदी है जो सृष्टि का निर्माण करती है; उसके बिना केवल अव्यवस्था और भ्रम है।

वह भोर की देवी है जिसकी किरणें अज्ञानता के अंधकार को दूर करती हैं। उसे महसूस करने के लिए आत्मा की शांति में आनंदित होना चाहिए।

वह प्रकृति में शुद्ध और उदात्त है। शुद्ध बुद्धि के संरक्षक के रूप में मन की शक्तियों में आनन्द का संचार करता है।

चार वेद, सार्वभौमिक ज्ञान की पुस्तकें, उनकी प्रतीक है। उसका वाहन हंस, है। सफेद हंस शुद्ध ज्ञान को दर्शाता है।

पुस्तकालय और स्कूल उसके मंदिर हैं; कलम, किताबें, कलाकार और संगीत वाद्ययंत्र के सभी उपकरण ज्ञान की देवी की पूजा में उपयोग की जाने वाली वस्तुएं हैं ।

या कुन्देन्दुतुषारहारधवला या शुभ्रवस्त्रावृता,
या वीणावरदण्डमण्डितकरा या श्वेतपद्मासना।
या ब्रह्माच्युत शंकरप्रभृतिभि र्देवैः सदा वन्दिता,
सा मां पातु सरस्वती भगवती निःशेषजाड्यापहा॥१॥

शुक्लां ब्रह्मविचार सार परमामाद्यां जगद्व्यापिनीं,
वीणा-पुस्तक-धारिणीमभयदां जाड्यान्धकारापहाम्‌।
हस्ते स्फटिकमालिकां विदधतीं पद्मासने संस्थिताम्‌,
वन्दे तां परमेश्वरीं भगवतीं बुद्धिप्रदां शारदाम्‌॥२॥

भावार्थ:

जो विद्या की देवी भगवती सरस्वती कुन्द के फूल, चंद्रमा, हिमराशि और मोती के हार की तरह धवल वर्ण की हैं और जो श्वेत वस्त्र धारण करती हैं, जिनके हाथ में वीणा-दण्ड शोभायमान है, जिन्होंने श्वेत कमलों पर आसन ग्रहण किया है तथा ब्रह्मा, विष्णु एवं शंकर आदि देवताओं द्वारा जो सदा पूजित हैं, वही संपूर्ण जड़ता और अज्ञान को दूर कर देने वाली मां सरस्वती हमारी रक्षा करें।

शुक्लवर्ण वाली, सम्पूर्ण चराचर जगत्‌ में व्याप्त, आदिशक्ति, परब्रह्म के विषय में किए गए विचार एवं चिन्तन के सार रूप परम उत्कर्ष को धारण करने वाली, सभी भयों से भयदान देने वाली, अज्ञान के अँधेरे को मिटाने वाली, हाथों में वीणा, पुस्तक और स्फटिक की माला धारण करने वाली और पद्मासन पर विराजमान्‌ बुद्धि प्रदान करने वाली, सर्वोच्च ऐश्वर्य से अलङ्कृत, भगवती शारदा की मैं वंदना करता हूँ।

मां सरस्वती की आरती || Saraswati Puja Aarti

ॐ जय सरस्वती माता, जय जय सरस्वती माता।
सद्‍गुण वैभव शालिनी, त्रिभुवन विख्याता॥ ॐ जय..

चंद्रवदनि पद्मासिनी, ध्रुति मंगलकारी।
सोहें शुभ हंस सवारी, अतुल तेजधारी ॥ ॐ जय..

बाएं कर में वीणा, दाएं कर में माला।
शीश मुकुट मणी सोहें, गल मोतियन माला ॥ ॐ जय..

देवी शरण जो आएं, उनका उद्धार किया।
पैठी मंथरा दासी, रावण संहार किया ॥ ॐ जय..

विद्या ज्ञान प्रदायिनी, ज्ञान प्रकाश भरो।
मोह, अज्ञान, तिमिर का जग से नाश करो ॥ ॐ जय..

धूप, दीप, फल, मेवा मां स्वीकार करो।
ज्ञानचक्षु दे माता, जग निस्तार करो ॥ ॐ जय..

मां सरस्वती की आरती जो कोई जन गावें।
हितकारी, सुखकारी, ज्ञान भक्ती पावें ॥ ॐ जय..

जय सरस्वती माता, जय जय सरस्वती माता।
सद्‍गुण वैभव शालिनी, त्रिभुवन विख्याता॥ ॐ जय..

ॐ जय सरस्वती माता, जय जय सरस्वती माता ।
सद्‍गुण वैभव शालिनी, त्रिभुवन विख्याता॥ ॐ जय..

बसंत पंचमी: के विभिन्न नाम || Different name of Basant Panchami

सरस्वती पूजा; बसंत पंचमी [Basant Panchami] को माघ पंचमी [Magh Panchami] भी कहा जाता है क्योंकि हर साल माघ महीने के शुक्ल पक्ष में आने वाली पंचमी तिथि को बसंत पंचमी का त्योहार मनाया जाता है । इसके अलावा बसंत पंचमी को सरस्वती पंचमी (Saraswati Panchami) और श्री पंचमी (Shri Panchami) के नाम से भी जाना जाता है ।

Your DP can be the passing judgment  on purpose of your vocation. There are Happy saraswati puja for Hindu  who utilize their own form of excellent Saraswati pictures and those photos are as a lot of wonderful as the pictures found on the web and which are altered obviously.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *